राजस्थान में बीजेपी के नेताओंके बगावती तेवर

राजस्थान में वसुंधरा राजे के कुप्रवन्ध के कारन बीजेपी की ज़मीन खिसकी है। ऊपर से धनश्याम तिवाड़ी के बागवती तेवर बीजेपी के मुखियों के लिए परेशानी का सबब बनी हुयी है।
इस विषय पर युगवाणी की एक रिपोर्ट।

Read more

कैशलेस करने के नाम पर जनता को चूना

एक समय जब बैंक का इतना प्रसार नही हुआ था तब लोगो को अपना पैसा रखने की एक मात्र जगह थी “गाँव का साहूकार” जो लोगो का पैसा अपने पास रखता था परन्तु उसपर कोई व्याज तो देता नहीं था बल्कि 10% पैसा रखने का काट भी लेता था| मज़े की बात यह थी की जब आप अपना पैसा मांगते […]

Read more

बोया पेड़ नवजोत सिंह सिद्दू का तो जीत कहाँ से होय

फिर जो हार मान जाए वह सिद्दू हो नही सकता| अमृतसर पूर्व की सीट पर अपने चुनाव को अपनी पत्नी नवजोत कौर के हवाले छोड़ दिया है। कांग्रेस जम कर भुना रही है उनका नाम। सिद्धू का लक्ष्य अकाली सरकार को हराने तक सीमित नहीं है। अलबत्ता बादल परिवार को गहरी चोट पहुंचाने का है।

Read more

नरेन्द्र मोदी का राजनैतिक बनवास कमरा तक छिना

Be Friend

Editor

A retired employee. Keen watcher of social life. Likes to read book & interact with people. Very spiritual but not religious.
Be Friend

राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ से अपनी शुरुआत करने वाले नरेन्द्र मोदी की जिंदगी के कई पहलुओं पर उनके करीबी रहे पूर्व सांसद प्रफुल्‍ल गोरदिया की किताब Fly Me To The Moon का एक अंश: ”90 के दशक के अंत में गुजरात भाजपा के दो कद्दावर नेता केशुभाई पटेल और शंकर सिंह वाघेला राज्‍य में अपना प्रभुत्‍व स्‍थापित करने में लगे थे। तब […]

Read more

11 जनवरी का फैसला बीजेपी के लिए संजीवनी बूटी

Be Friend

Editor

A retired employee. Keen watcher of social life. Likes to read book & interact with people. Very spiritual but not religious.
Be Friend

कोई कुछ भी कहे, सही तो यह है की बीजेपी 11 जनवरी के बाद ही प्रांतीय चुनाव में लिए पूरी तरह से कूदी है क्योंकि 11 जनवरी को बिडला-सहारा डायरी की जांच की मांग का सुप्रीम कोर्ट में खारिज होना नरेंद्र मोदी और बीजेपी के इए बड़ी राहत की बात है| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिलो-दिमाग का भारी बोझ खत्म […]

Read more

प्रशांत किशोर का किस्सा

सभी मझे नेता को पता होता है कि हारा नेता भी कई करोड़ का होता है| परन्तु यदि प्रशांत किशोर कि तरकीब सफल हुए और गठबंधन हुआ तब अधिकाँश को चुनाव लड़ने का मौका भी नही मिलेगा तब वे हारे हुए नेता ना होकर भूतपूर्व विधानसभा उम्मीदवार मात्र बन कर रह जायेंगे जिसकी कीमत दो कौड़ी भी नही होती|

Read more

चीनी सामान का वहिष्कार एवं व्यापारियों का नुक्सान

यह सही है कि सारे चीनी समाना का वहिष्कार मुश्किल है क्योंकि बहुत सी कंपनी अपने सामान का उत्पाद चीन में कर उसे भारत में बेचती है| फिर भी जिस सामान का वहिष्कार किया जा सकता है और जिस सामान से हमारा कुटीर उद्ध्योग बंद हो रहा है, उनका वहिष्कार होना ही चाहिए|

Read more

Father, Son & Great Recession

आज वही पिता दुसरे की दूकान में छोले-पटूरे का कारीगर है और उसका बेटा बेकार घूम रहा है| आखिरकार देश में मंदी के दौर से जो गुज़र रहा है| परन्तु हमारे प्रधान-मंत्री देश-दुनिया घूमने के अतिरिक्त कुछ नहीं करते|

Read more
1 2 3 9